true words

Just another Jagranjunction Blogs weblog

28 Posts

50 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 15909 postid : 728811

कैसे कर ले किसी से प्यार याद जब आ जाते हो तुम........

Posted On: 7 Apr, 2014 Others,कविता,Hindi Sahitya में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

कैसे कर ले किसी से प्यार याद जब आ जाते हो तुम।
भुला देते है हम हर बार मगर फिर छा जाते हो तुम।
माँ कहती कर ले अब ब्याह।
मिटा दे उस लड़की की चाह।
मिलेगी एक से एक बढ़कर।
उसी पे भरमा जाते हो तुम।
कैसे कर ले किसी से प्यार याद जब आ जाते हो तुम।
लड़कियों की तो है भरमार।
एक से एक सुन्दर सुकुमार।
मगर ये दिल जुड़ता ही नही।
हमें तो फिर भा जाते हो तुम।
कैसे कर ले किसी से प्यार याद जब आ जाते हो तुम।
दूर हो पर तुम धड़कन हो।
न बोलो पर तुम सरगम हो।
ये मेरे हाँथ वही लिखते।
जो आके गा जाते हो तुम।
कैसे कर ले किसी से प्यार याद जब आ जाते हो तुम।
बन्द आँखों मे मिल जाती।
याद फिर सावन बरसाती।
कैसे हँस ले किसी के साथ।
अभी भी रुला जाते हो तुम।
कैसे कर ले किसी से प्यार याद जब आ जाते हो तुम।



Tags:

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

4 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Nirmala Singh Gaur के द्वारा
April 7, 2014

दूर हो पर तुम धड़कन हो ,न बोलो पर तुम सरगम हो –कैसे हंस लें किसी के साथ ,अभी भी रुला जाते हो तुम .अत्यंत कोमल भावनाओं की दिल को छू लेने वाली अभिव्यक्ति ,संजीव जी ,बहुत सजीव रचना .

sanjeevtrivedi के द्वारा
April 8, 2014

nirmla ji आपका बहुत बहुत धन्यबाद….

shavya chauhan के द्वारा
January 1, 2016

nice poem

sanjeevtrivedi के द्वारा
April 14, 2016

tumne mera likhna safal kar diya aaj mujhe bahut khusi mili mai bata nahi sakta ho sake to bat karo pz…


topic of the week



latest from jagran